Translate

Tuesday, 13 August 2019

Shravan purnima special remedy for disease श्रावण पूर्णिमा पर रोगनाश हेतु विशेश उपाय

श्रावण पूर्णिमा /
रक्षा बंधन विशेष
15 अगस्त 2019

भगवान शिव के इस स्तोत्र का जो भी व्यक्ति सुबह जाप करता है, उसका पूरा दिन बिना किसी रुकावट के बीतता है और जो नियमित रुप से इसका जाप करते हैं उनका सारा जीवन रोगों और समस्याओं से रहित रहता है.

प्रातर्नमामि गिरिशं गिरिजार्धदेहं
सर्गस्थितिप्रलयकारणमादिदेवम् ।
विश्वेश्वरं विजितविश्वमनोभिरामं
संसाररोगहरमौषधमद्वितीयम् ॥

अर्थ : उन गिरीशको (शिव) मैं प्रातः नमन करता हूं, जिनके अर्ध भागमें देवी गिरिजा (पार्वती) विराजती हैं, जो उत्पत्ति, स्थिति और लय तीनोंके मूल कारण हैं जो विश्वेश्वर हैं और सम्पूर्ण विश्वको अपने मनोरमतासे जीत लेते हैं, जो अपने औषधिसे सांसरिक बंधन रूपी रोगका नाश करते हैं और अद्वितीय हैं ।

किसी खास असाध्य रोग हेतु महामृत्युंजय मन्त्र से सम्पुट कर अधिकाधिक जप करना शीघ्र फल देता है।

अन्य किसी जानकारी, समस्या समाधान और कुंडली विश्लेषण हेतु सम्पर्क कर सकते हैं।

।।जय श्री राम।।

7579400465
8909521616 (whats app)

For more easy & useful remedies visit :
सरल उपायों, विभिन्न स्तोत्र एवम मन्त्र जानने के लिए यहां क्लिक करें:-
 http://jyotish-tantra.blogspot.in

फेसबुक पेज से जुड़ें
https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=2532674480086769&id=552974648056772

No comments:

Post a comment